RCCMS UP Portal Online: vaad.up.nic पर मुकदमों की जानकारी

RCCMS UP Portal ऑनलाइन पंजीकरण, वरासत की स्थिति – उत्तर प्रदेश सरकार ने 2013 में राजस्व न्यायालयों को कंप्यूटर में चलाने का फैसला किया, जिसके बाद इसे लागू करने के लिए vaad.up.nic पोर्टल शुरू किया गया। इस पोर्टल को एएनओ आइओ कंपनी ने उत्तर प्रदेश सरकार के लिए बनाया है, जिससे प्रदेश के सभी राजस्व न्यायालयों का काम कंप्यूटर में हो और ऑनलाइन देखा जा सके। RCCMS UP ऑनलाइन पोर्टल के जरिए उत्तर प्रदेश के लोग राजस्व न्यायालय से जुड़ी सभी जरूरी सेवाएं और सुविधाएं ऑनलाइन ले सकते हैं।

Rccms up portal

RCCMS UP Portal 2024: राजस्व न्यायालय की ऑनलाइन जानकारी और सुविधाएं

उत्तर प्रदेश सरकार ने राजस्व न्यायालयों का काम कंप्यूटर में डाल दिया है। इसके लिए सरकार ने RCCMS नाम का एक वेबसाइट शुरू किया है। RCCMS UP Portal से प्रदेश के लोग राजस्व न्यायालय से जुड़ी सभी बातें और फायदे ऑनलाइन ले सकते हैं। प्रदेश के 2642 राजस्व न्यायालयों की सारी बातें पोर्टल पर कंप्यूटर में रखी गई हैं। इसमें नायब तहसीलदार न्यायालय से लेकर राजस्व परिषद तक के न्यायालय शामिल हैं। प्रदेश के लोग अपने घर से अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप आदि से राजस्व मुकदमों की सारी जानकारी देख सकते हैं।

UP Vishwakarma Shram Samman Yojana: 10 लाख रुपए का लोन और फ्री ट्रेनिंग?

इसके लिए उन्हें किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की जरूरत नहीं है। इससे उनका समय और पैसा दोनों बचेगा और प्रणाली में सफाई भी आएगी। सरकार ने एक मोबाइल ऐप भी बनाया है। इस ऐप पर भी पोर्टल पर मौजूद सभी फायदे और जानकारियां मिलेंगी। इसके साथ ही इस पोर्टल से दाखिल खारिज और जमीन के प्रकार को बदलने के लिए भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Key Highlights of RCCMS UP Portal Online

पोर्टल का नामRCCMS UP ऑनलाइन पोर्टल
आरम्भ की गयीउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
वर्ष2023
लाभार्थीराज्य के नागरिक
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन मोड
उद्देश्यराजस्व न्यायालय से संबंधित सभी जानकारी एवं सेवाएँ ऑनलाइन उपलब्ध करना
लाभऑनलाइन पोर्टल सुविधा
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटvaad.up.nic.in

RCCMS UP Portal Online पोर्टल का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने vaad.UP.nic राजस्व अदालत की कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली शुरू की है, जिसका मुख्य लक्ष्य प्रदेश के लोगों को राजस्व अदालत की सभी सेवाओं और सुविधाओं को ऑनलाइन देना है। प्रदेश के लोग इस ऑनलाइन पोर्टल के जरिए उत्तर प्रदेश की सभी अदालतों में लंबित और निपटाए गए मामलों की सभी जरूरी जानकारी, जैसे:- तारीख का निर्धारण, अदालत में हुई कार्रवाई, अदालत के आदेश आदि, घर पर बैठे ऑनलाइन ले सकते हैं। RCCMS UP ऑनलाइन पोर्टल के ऑनलाइन होने से लोगों को अब किसी भी विभाग या कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं होगी, जिससे उनका पैसा और समय दोनों बचेगा और प्रणाली में पारदर्शिता भी बढ़ेगी।

vaad.up.nic – राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली स्टैटिसटिक्स

आइटमआंकड़े
कुल न्यायालय3027
कुल वाद20.63 M
कुल निस्तारित19.31 M
कुल विचाराधीन1.32 M
कुल विचाराधीन (एक वर्ष से अधिक)0.28 M
कुल विचाराधीन (तीन वर्ष से अधिक)0.12 M
कुल विचाराधीन (पांच वर्ष से अधिक)0.22 M
कुल अनअद्यतनीकृत वाद0.50 M

vaad.up.nic पोर्टल पर उपलब्ध सुविधाएं

उत्तर प्रदेश सरकार के vaad.up.nic पोर्टल पर राजस्व अदालत की कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली के अंतर्गत निम्नलिखित सुविधाएं उपलब्ध हैं:

  • वाद सूची
    • दैनिक वाद तालिका
    • परिपक्व/अपरि. तालिका
  • वाद खोज विधि
    • कंप्यूटरीकृत वाद सं०
    • वरासत हेतु आवेदन की स्थिति जाने
    • भूखण्ड / गाटे के वादग्रस्त होने की स्थिति जाने
    • राजस्व ग्राम कोड
    • कैविएट खोजें
    • वाद संख्या
    • पंजीकरण वर्ष
    • वादी / प्रतिवादी
    • पंजीकरण तिथि
    • नवीन वाद(राजस्व परिषद)
    • सुनवाई तिथि
    • अधिनियम
    • विवादित भूमि के ग्राम द्वारा
  • न्यायालय आदेश
    • आदेश तिथि
    • वाद संख्या
  • लॉगिन (राजस्व परिषद)
    • लॉगिन (राजस्व परिषद)
    • मण्डल सहायक लॉगिन
  • लॉगिन (एन.टी. से मण्डलायुक्त)
  • ऑनलाइन आवेदन
    • ऑनलाइन आवेदन हेतु प्रक्रिया
    • धारा “34”
    • धारा “80”
    • उत्तराधिकार / वरासत
    • कैविएट पंजीकरण
  • फोलियो
    • एकल खिड़की प्रणाली
    • लॉगिन (लेखपाल/रा.नि.)
    • लेखपाल/राजस्व निरीक्षक लॉगिन
    • आर. आर. के. लॉगिन
  • चकबन्दी न्यायालय

RCCMS UP Portal के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार ने राजस्व अदालतों का काम कंप्यूटर में चलाने का फैसला किया है।
  • इसके लिए सरकार ने RCCMS नाम की एक वेबसाइट बनाई है।
  • इस वेबसाइट पर प्रदेश के लोग राजस्व अदालतों से जुड़ी सभी बातें और सुविधाएं ऑनलाइन देख सकते हैं।
  • प्रदेश की 2642 राजस्व अदालतों की सारी जानकारी इस वेबसाइट पर डाली गई है।
  • इनमें नायब तहसीलदार अदालत से लेकर राजस्व परिषद तक की अदालतें शामिल हैं।
  • प्रदेश के लोग अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप आदि से राजस्व मामलों की सारी जानकारी घर पर ही ले सकते हैं।
  • इसके लिए उन्हें किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की जरूरत नहीं होगी।
  • इससे उनका समय और पैसा दोनों बचेगा और प्रणाली में सफाई भी आएगी।
  • सरकार ने इस वेबसाइट का एक मोबाइल ऐप भी बनाया है।
  • इस ऐप पर भी वेबसाइट पर मौजूद सभी सुविधाएं और जानकारियां मिलेंगी।
  • इसके साथ ही इस वेबसाइट से दाखिल खारिज और जमीन के प्रकार को बदलने के लिए भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

RCCMS UP मुक़दमे की स्थिति ऑनलाइन जाँचने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश सरकार ने राजस्व अदालतों का काम कंप्यूटर में देखने के लिए एक वेबसाइट बनाई है। इस वेबसाइट का नाम RCCMS है। इस वेबसाइट पर प्रदेश के लोग राजस्व मामलों की सारी जानकारी ऑनलाइन देख सकते हैं। प्रदेश की 2642 राजस्व अदालतों की सारी जानकारी इस वेबसाइट पर डाली गई है। इनमें नायब तहसीलदार अदालत से लेकर राजस्व परिषद तक की अदालतें शामिल हैं। प्रदेश के लोग अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप आदि से राजस्व मामलों की सारी जानकारी घर पर ही ले सकते हैं।

इसके लिए उन्हें किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की जरूरत नहीं होगी। इससे उनका समय और पैसा दोनों बचेगा और प्रणाली में सफाई भी आएगी। सरकार ने इस वेबसाइट का एक मोबाइल ऐप भी बनाया है। इस ऐप पर भी वेबसाइट पर मौजूद सभी सुविधाएं और जानकारियां मिलेंगी। इसके साथ ही इस वेबसाइट से दाखिल खारिज और जमीन के प्रकार को बदलने के लिए भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

यदि आप अपने मुकदमे की स्थिति ऑनलाइन जाँचना चाहते हैं, तो आप निम्नलिखित चरणों का पालन कर सकते हैं:

  • पहले आप RCCMS की वेबसाइट पर जाएं।
  • फिर आप “वाद खोज विधि” पर क्लिक करें।
  • फिर आप “कंप्यूटरीकृत वाद सं०” पर क्लिक करें।
  • फिर आप अपनी कंप्यूटरीकृत वाद संख्या डालें।
  • फिर आप “प्रदर्शित करें” पर क्लिक करें।
  • फिर आप अपने मुकदमे की स्थिति देख सकते हैं।

यदि आप एन० टी० से मंडलयुक्त के रूप में लॉगिन करना चाहते हैं, तो आप निम्नलिखित चरणों का पालन कर सकते हैं:

  • पहले आप RCCMS की वेबसाइट पर जाएं।
  • फिर आप “लॉगिन (एन० टी० से मंडलयुक्त)” पर क्लिक करें।
  • फिर आप “लॉगिन (एन०टी० से मण्डलायुक्त)” पर क्लिक करें।
  • फिर आप अपने यूजर, यूजर प्रारूप, यूजर नेम आदि की जानकारी भरें।
  • फिर आप “लॉगिन” पर क्लिक करें।
  • फिर आप लॉगिन कर सकते हैं।

 

Sachin Jangra, a BSc Computer Science graduate, combines his technical expertise with a passion for blogging and SEO. With three years of hands-on experience, he navigates the digital landscape, creating insightful content and optimizing online presence.


DMCA.com Protection Status

Leave a Comment

PMO Yojanaa

हमारी वेबसाइट किसी भी सरकारी संस्था या अधिकारिक एजेंसी से सीधे जुड़ी हुई नहीं है। हम आपको विभिन्न सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी देने के लिए आधिकारिक स्रोतों और समाचार माध्यमों से प्राप्त डेटा का उपयोग करते हैं। हमारा उद्देश्य है कि आप तक सही और विश्वसनीय जानकारी पहुंचे। हम आपसे अनुरोध करते हैं कि किसी भी जानकारी पर भरोसा करने से पहले, उसे संबंधित सरकारी वेबसाइट पर जाकर स्वयं सत्यापित कर लें। हमारा प्रयास है कि आपको सटीक और उपयोगी सूचना मिले, और हम आपको यह सलाह देते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से ही सभी जानकारी की पुष्टि करें।