अयोध्या के राम मंदिर का प्रसाद घर बैठे पाएं: खादीऑर्गेनिक ने शुरू की फ्री डिलीवरी सेवा | Ram Mandir

अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर (Ram Mandir) का प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी 2024 को होगा। इस दिन राम भक्तों का लंबा इंतजार खत्म होगा और भगवान राम अपने नए मंदिर में बसेंगे। इस खुशी के मौके पर देशभर में दीवाली का जश्न मनाया जाएगा। सरकार ने लोगों से अनुरोध किया है कि वे अयोध्या न जाएं और अपने घरों या आस-पास के स्थानों पर दीये जलाएं और कार्यक्रम आयोजित करें। एक निजी कंपनी ने यह भी कहा है कि वह राम मंदिर से आने वाले प्रसाद को घर-घर तक पहुंचाएगी।

इस कंपनी का नाम खादीऑर्गेनिक है और इसकी वेबसाइट पर आप अपना आदर्श बता सकते हैं। यह कंपनी एक सॉफ्टवेयर कंपनी है जो राम मंदिर के प्रसाद की डिलीवरी के लिए एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म बनाई है। आपको बस अपना नाम, पता और मोबाइल नंबर देना होगा और आपको एक ओटीपी भेजा जाएगा। जब आप ओटीपी से अपना आदर्श पूरा करेंगे, तो आपको एक कन्फर्मेशन मेल और एसएमएस मिलेगा। फिर आपको बस अपने घर पर प्रसाद का इंतजार करना होगा। इस प्रकार, आप भी राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा के दिन घर बैठे प्रसाद ले सकते हैं।

Note – बताते चले की हमारी वेबसाइट इस जानकारी की पुष्टि नहीं करती है। इस जानकारी को www.jansatta.com की वेबसाइट से लिया गया है। कृपया अपने विवेक पर आर्डर करे।

Ayodhya Ram Mandir Prasad

राम मंदिर के प्रसाद को घर-घर तक पहुंचाने का वादा करने वाली एक वेबसाइट

राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दिन देशभर में दीवाली का जश्न मनाया जाएगा। इस दिन भगवान राम का नया मंदिर तैयार हो जाएगा और राम भक्तों को उनका प्रसाद मिलेगा। लेकिन सरकार ने लोगों को अयोध्या न जाने की सलाह दी है और उन्हें अपने घरों पर दीये जलाने और कार्यक्रम करने के लिए कहा है। ऐसे में एक वेबसाइट है जो दावा कर रही है कि वह राम मंदिर के प्रसाद को घर-घर तक पहुंचाएगी। इस वेबसाइट का नाम खादीऑर्गेनिक है और इसके पीछे एक सॉफ्टवेयर कंपनी है।

खादीऑर्गेनिक के सेल्स हेड आदर्श ने बताया कि इस वेबसाइट की मालिक आशीष सिंह हैं जो भारत में बने ऑर्गेनिक उत्पादों को विदेश में बेचते हैं। उनकी कंपनी का नाम DrillMaps India Private Limited है और उनका ऑफिस नोएडा में है। आशीष सिंह अभी Meta में सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में काम कर रहे हैं।

आदर्श ने यह भी कहा कि आशीष सिंह को हनुमान जी का सपना आया था और उन्होंने उन्हें राम मंदिर के प्रसाद को लोगों तक पहुंचाने का आदेश दिया था। इसलिए उन्होंने खादीऑर्गेनिक वेबसाइट बनाई और लोगों को फ्री प्रसाद देने का वादा किया।

अगर आप भी राम मंदिर के प्रसाद को घर बैठे लेना चाहते हैं, तो आपको बस इस वेबसाइट पर जाकर अपना नाम, पता और फोन नंबर देना होगा। फिर आपको एक ओटीपी मिलेगा जिसे आपको वेरीफाई करना होगा। उसके बाद आपको एक कन्फर्मेशन मेल और एसएमएस भी मिलेगा। और फिर आपको बस अपने घर पर प्रसाद का इंतजार करना होगा।

Key Highlights of Ayodhya Ram Mandir Free Prasad 2024

आर्टिकल का नामKhadi Organic Free Prasad
आरम्भ की गईएक प्राइवेट कंपनी द्वारा
प्रसाद वितरण कार्यक्रमएक वेबसाइट नाम खादीऑर्गेनिक ने राम मंदिर से सीधे घरों तक प्रसाद की डिलीवरी का वादा किया है। यह वेबसाइट ड्रिलमैप्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक सॉफ्टवेयर कंपनी का हिस्सा है।
प्रसाद की सामग्रीप्रसाद में मिठाई, फल और अन्य धार्मिक वस्तुएं शामिल हैं। प्राण प्रतिष्ठा के दिन पहला प्रसाद दिया जाएगा।
वर्ष2024
लाभार्थीभगवन राम भक्त
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यराम मंदिर से आया प्रसाद घर-घर मुफ्त पहुँचाना
लाभप्राण-प्रतिष्ठा वाली दिन प्रसाद की प्राप्ति
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

खादीऑर्गेनिक है एक निजी संगठन

खादीऑर्गेनिक के सेल्स हेड आदर्श ने बताया कि यह एक निजी संगठन है जो राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा के दिन लोगों को मुफ्त प्रसाद देने का वादा कर रहा है। वे कहते हैं कि वे राम मंदिर से प्रसाद लेकर आएंगे और उसे देशभर में वितरित करेंगे। उनका कहना है कि उनकी पहली योजना थी कि वे प्रसाद को हर जिले के अस्पताल में बांटेंगे। लेकिन बाद में उन्हें लोगों के मैसेज और कॉल मिले जिनमें उन्हें घर-घर प्रसाद भेजने का अनुरोध किया गया।

प्रसाद लाने के लिए 51 रुपये का शुल्क

राम मंदिर के प्रसाद को घर-घर तक पहुंचाने का काम एक कंपनी कर रही है। इस कंपनी का नाम खादीऑर्गेनिक है और यह शिप रॉकेट जैसे डिलीवरी पार्टनर के साथ काम करती है। इस कंपनी ने बताया है कि प्रसाद को घर-घर लाने का खर्च 40 से 60 रुपये तक हो सकता है। इसलिए वे लोगों से 51 रुपये का डिलीवरी चार्ज लेंगे। प्रसाद की कीमत तो कंपनी देगी ही, लेकिन डिलीवरी का खर्च लोगों को देना होगा।

खादीऑर्गेनिक की वेबसाइट पर राम मंदिर से संबंधित और भी कुछ सामान मिलते हैं। जैसे कि टी-शर्ट, कॉइन, झंडा आदि। इन सामानों की बिक्री से जो भी कमाई होगी, वह कंपनी दान कर देगी। इससे वे राम मंदिर के निर्माण में भी योगदान देंगे।

How to Book Ayodhya Ram Mandir Prasad Free Online

अगर आप भी राम मंदिर के प्रसाद को घर बैठे लेना चाहते हैं, तो आप इन सरल चरणों का पालन करके khadiorganic.com की वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको खादी ऑर्गेनिक राम मंदिर प्रथम दिवस मुफ्त प्रसाद ऑर्डर की वेबसाइट पर जाना होगा।
  • फिर आपको वेबसाइट के होमपेज पर मेन्यू में “Free Parshad” के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको एक नया पेज दिखाई देगा, जहां आपको फ्री प्रसाद को अपनी कार्ट में जोड़ने के लिए “Add to Cart” ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपको “Buy Now” बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी और अन्य जरूरी जानकारी जैसे अपना नाम, पता, शहर, राज्य, पिन कोड, फोन नंबर आदि भरना होगा।
  • फिर आपको “भविष्य के लिए यह जानकारी याद रखें” के विकल्प पर टिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको नीचे दिए गए भुगतान विधि में से किसी एक को चुनना होगा।
  • फिर आपको खादी ऑर्गेनिक मुफ्त प्रसाद राशि का भुगतान करना होगा।
  • अंत में आपको “पूर्ण ऑर्डर” बटन पर क्लिक करना होगा।

इस तरह आपका Khadi Organic Free Prasad के लिए आवेदन पूरा हो जाएगा। नोट: यह ध्यान रखें कि कंपनी ने बताया है कि अभी तक ऑर्डर को ट्रैक करने की कोई सुविधा नहीं है। 22 जनवरी के बाद आप अपने ऑर्डर की जानकारी देख सकेंगे।

Sachin Jangra, a BSc Computer Science graduate, combines his technical expertise with a passion for blogging and SEO. With three years of hands-on experience, he navigates the digital landscape, creating insightful content and optimizing online presence.


DMCA.com Protection Status

Leave a Comment

PMO Yojanaa

हमारी वेबसाइट किसी भी सरकारी संस्था या अधिकारिक एजेंसी से सीधे जुड़ी हुई नहीं है। हम आपको विभिन्न सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी देने के लिए आधिकारिक स्रोतों और समाचार माध्यमों से प्राप्त डेटा का उपयोग करते हैं। हमारा उद्देश्य है कि आप तक सही और विश्वसनीय जानकारी पहुंचे। हम आपसे अनुरोध करते हैं कि किसी भी जानकारी पर भरोसा करने से पहले, उसे संबंधित सरकारी वेबसाइट पर जाकर स्वयं सत्यापित कर लें। हमारा प्रयास है कि आपको सटीक और उपयोगी सूचना मिले, और हम आपको यह सलाह देते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से ही सभी जानकारी की पुष्टि करें।